वर्ल्ड कप 2019 न्यूजीलैंड के खिलाफ आज भारत खेलेगा अपना अभ्यास मैच

वर्ल्ड कप 2019 न्यूजीलैंड के खिलाफ आज भारत खेलेगा अपना अभ्यास मैच

May 25, 2019 0 By Sports writer

30 मई से खेले जाने वाले वर्ल्ड कप के तैयारी के लिए सभी टीमें मैच से पहले अपना अभ्यास में खेल रही है इसी कड़ी में 25 मई को वर्ल्ड कप की दो मजबूती में भारत और न्यूजीलैंड के बीच में आज अभ्यास मैच खेला जाएगा।

प्रबल दावेदारों में शुमार भारतीय टीम शनिवार को यहां विश्व कप के लिए अपने शुरूआती अभ्यास मैच में न्यूजीलैंड से खेलेगी, जिसमें खिलाड़ियों की कोशिश परिस्थितियों के अनुरूप ढलने की होगी। हालांकि भारत को अब भी चौथे नंबर को चल रहे संशय को साफ करना है। केनिंगटन ओवल में होने वाले इस मुकाबले में टीम अपने मजबूत गेंदबाजी आक्रमण में प्रयोग के बजाय लोकेश राहुल और विजय शंकर पर ध्यान लगाएगी, जो चौथे नंबर के दावेदारों में शामिल हैं।

विराट कोहली की टीम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के टूर्नामेंट में दो खिताबों में एक और ट्रॉफी जोड़ने के इरादे से यहां पहुंची है। उसने 1983 और 2011 में खिताब अपने नाम किया था। वन-डे रैंकिंग में भारतीय टीम इंग्लैंड से पीछे दूसरे स्थान पर हैं और वह मेजबान देश और गत चैंपियन आस्ट्रेलिया के साथ टूर्नामेंट की प्रबल दावेदारों में शुमार होगी।

भारत 5 जून को साउथैम्पटन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टूर्नामेंट में अभियान की शुरूआत करेगा। प्रतिद्वंद्वी टीमों की निगाहें हालांकि भारतीय कप्तान पर टिकी होंगी जो 50 ओवर के क्रिकेट के अलावा टेस्ट क्रिकेट में भी नंबर एक बल्लेबाज हैं। साथ ही विपक्षी टीमें उनके तेज गेंदबाजी आक्रमण को भी परखना चाहेंगी।

सलामी बल्लेबाज के रूप में रोहित शर्मा और शिखर धवन के बाद तीसरे नंबर पर विराट कोहली की मौजूदगी से शीर्ष तीन के हिसाब से भारत दुनिया में सबसे मजबूत टीम है। अनुभवी महेंद्र सिंह धोनी, आल राउंडर केदार जाधव और हार्दिक पंड्या की मौजूदगी से लाइन अप में गहराई मौजूद है। प्रतिद्वंद्वी भारत के तेज गेंदबाजों पर भी निगाह लगाये होंगे कि वे परिस्थितियों का कैसे फायदा उठाते हैं जो टूर्नामेंट में काफी अहम कारक होगा।

दुनिया के शीर्ष रैंकिंग पर काबिज वन-डे गेंदबाज जसप्रीत बुमराह तेज गेंदबाजी आक्रमण के अगुवा हैं, जिसमें मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार और हार्दिक शामिल हैं। कलाई के स्पिनर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल की मौजूदगी से भारतीय आक्रमण में विविधता आती है तथा आगामी हफ्तों में वे प्रभावी भूमिका निभाएंगे।